मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार अपने कर्मचारियों और दिल्ली के नागरिकों को सर्वोत्तम सेवाएं देने में हमेशा सबसे आगे रही है- कैलाश गहलोत

मनीष सूर्यवंशी ( वीर सूर्या टाइम्स )
नई दिल्ली! दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) जल्द ही दिल्ली-एनसीआर में और इंटरसिटी परिचालन के लिए प्रीमियम बसें चलाने जा रही है। इसकी सैद्धांतिक मंजूरी डीटीसी ने 09.01.2023 को हुई अपनी बोर्ड मीटिंग में दे दी है। इसके अलावा डीटीसी बोर्ड ने डीटीसी कर्मचारियों द्वारा ई-दोपहिया वाहनों के उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए डीटीसी डिपो में मुफ्त चार्जिंग की सुविधा प्रदान करने को भी मंजूरी दी है। डीटीसी कर्मचारी ई-वाहनों की खरीद के लिए दिल्ली ईवी नीति 2020 के प्रावधान के अनुसार दिल्ली फाइनेंस कॉर्पोरेशन (डीएफसी) द्वारा सूचीबद्ध वित्तीय संस्थानों से ऋण प्राप्त करने में सक्षम होंगे। एक अन्य निर्णय में, बोर्ड ने डीटीसी के संविदा कर्मचारियों को 03 राष्ट्रीय अवकाश का लाभ देने की भी मंजूरी दी है।

सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस होंगी ये प्रीमियम बसें
डीटीसी काफी समय से लंबे मार्गों पर उच्च गुणवत्ता वाली प्रीमियम बसें शुरू करने की योजना बना रहा था। डीटीसी बोर्ड से मंज़ूरी के बाद जल्द ही 200 किलोमीटर तक के एनसीआर मार्गों पर इलेक्ट्रिक या सीएनजी प्रीमियम बसें चलाई जाएँगी। इंटरसिटी बस संचालन के लिए डीटीसी 200 किलोमीटर से अधिक दुरी के मार्गों पर भारत स्टेज (बीएस) VI बसों का संचालन करेगी। लंबी दूरी के यात्रियों के लिए सुविधाजनक और सुरक्षित यात्रा प्रदान करने वाली सभी बसें सीसीटीवी, जीपीएस, पैनिक बटन और अन्य आधुनिक सुविधाओं से लैस होंगी।

डीटीसी डिपो में कर्मचारियों के लिए होंगी मुफ्त ई-वाहन चार्जिंग की सुविधा
दिल्ली में ई-वाहनों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बैठक में डीटीसी बोर्ड ने इलेक्ट्रिक वाहन रखने वाले अपने सभी कर्मचारियों के लिए मुफ्त चार्जिंग की सुविधा प्रदान करने को भी मंजूरी दी। दिल्ली ईवी पॉलिसी में 2 व्हीलर सेगमेंट को प्राथमिकता वाले सेगमेंट में रखा गया है। 2 व्हीलर की खरीद पर दिल्ली सरकार पहले से ही प्रति वाहन 5,000 रुपये प्रति kWh की बैटरी क्षमता के साथ अधिकतम 30,000 रुपये तक का प्रोत्साहन प्रदान कर रही है। डीटीसी के डिपो और कॉर्पोरेट कार्यालय में लगभग 38,000 कर्मचारी कार्यरत हैं। हाल ही में डीटीसी के कर्मचारियों के बीच एक सर्वेक्षण किया गया जिसमे यह पाया गया कि 45% कर्मचारी ऑफिस आने-जाने के लिए दोपहिया वाहनों का उपयोग करते हैं। इलेक्ट्रिक वाहन मालिकों के लिए दूरी की चिंता और वाहनों की चार्जिंग प्रमुख चुनौतियों में से एक रही है लेकिन कार्यालय और डीटीसी बस डिपो में मुफ्त चार्जिंग सुविधाएं होने से अब डीटीसी के कर्मचारी आसानी से मुफ्त में आपने इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज कर सकेंगे।

डीटीसी कर्मचारी ई-वाहन खरीदने के लिए डीएफसी द्वारा सूचीबद्ध वित्तीय संस्थानों से ऋण सुविधा का लाभ उठा सकेंगे
इसके अतिरिक्त, डीटीसी कर्मचारी जिनके पास इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन खरीदने के लिए पैसे नहीं हैं वे अब दिल्ली ईवी नीति, 2020 के प्रावधान के अनुसार, दिल्ली वित्त निगम (डीएफसी) द्वारा सूचीबद्ध वित्तीय संस्थानों से ऋण सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। पूरी प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए डीटीसी बोर्ड ने कर्मचारी के वेतन से सीधे कर्ज की राशि की किस्त काटने के प्रावधान को मंजूरी दी है।

अब संविदा कर्मचारी भी नियमित कर्मचारियों के समान राष्ट्रीय अवकाश के लाभ के हकदार होंगे
डीटीसी बोर्ड की बैठक में डीटीसी के संविदा कर्मचारियों को 03 राष्ट्रीय अवकाश (26 जनवरी, 15 अगस्त एवं 2 अक्टूबर) का लाभ देने के संबंध में एक अन्य महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। अब संविदा कर्मचारी भी नियमित कर्मचारियों के समान राष्ट्रीय अवकाश के लाभ के हकदार होंगे। इस सिलसिले में जून 2022 में एक समिति का गठन किया गया था जिसके द्वारा इसे लागू करने की सिफारिश की गयी थी। यदि कोई कर्मचारी राजपत्रित अवकाश पर ड्यूटी करते हैं तो डीटीसी मूल वेतन का 1.5 गुना और नियमित कर्मचारियों (यातायात कर्मचारियों) को डीए का भुगतान करता है। समिति ने संविदा कर्मचारियों के लिए भी सामान प्रावधान की सिफारिश की थी।

दिल्ली के परिवहन मंत्री और डीटीसी बोर्ड के अध्यक्ष कैलाश गहलोत ने कहा, “मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार अपने कर्मचारियों और दिल्ली के नागरिकों को सर्वोत्तम सेवाएं देने में हमेशा सबसे आगे रही है। लंबी दुरी की यात्रा करने वाले यात्रियों को डीटीसी की नई प्रीमियम बसों में बेहतरीन सुविधाएं मिलेंगी। मुफ्त ईवी चार्जिंग सुविधाएं और संविदा कर्मचारियों को 03 राष्ट्रीय अवकाश का लाभ हमारा अपने कर्मचारियों के लिए सर्वोत्तम सुविधाएं प्रदान करने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *