एमसीडी चुनाव में कटेवरा गांव के लोगों ने वोट नहीं दिया, मैं आपकी नाराजगी दूर करने आया हूं- अरविंद केजरीवाल

मनीष सूर्यवंशी वीर सूर्या टाइम्स अरविंद केजरीवाल एमसीडी चुनाव का बहिष्कार करने वाले कटेवरा गांव पहुंचे। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से मिलकर उनकी नाराजगी दूर की। गांव की बुनियादी समस्याओं को लेकर ग्रामीण नाराज थे। मुख्यमंत्री के पहुंचने से पहले ही वहां तेज बारिश शुरु हो गई तो ग्रामीणों ने फोन कर कार्यक्रम रद करने की अपील की, लेकिन इसके बावजूद सीएम उनके बीच पहुंचे। इस दौरान सीएम ने एक-एक कर ग्रामीणों की सारी समस्याएं सुनी और सबका समाधान करने का वादा कर उनकी नाराजगी दूर की। सीएम अरविंद केजरीवाल की इस दरियादिली के ग्रामीण भी कायल हो गए और सबने बारिश में भीग कर उनको सुना। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं आपका बेटा हूं, मुझसे नाराज होने का आपका हक है। आप मुझे नहीं डांटोगे तो किसको डांटोगे। उन्होंने कहा कि गांव का फिरनी रोड़ हमने बनवा दिया है। गांव में जल्द ही चौपाल, सड़क, सीवेज लाइन, स्टेडियम, श्मशान घाट, सामुदायिक केंद्र बनवा दूंगा और गांव का तालाब भी साफ करा दूंगा। अगली बार आप जिसको मर्जी वोट करना, लेकिन वोट डालने जरूरत जाना।

अरविंद केजरीवाल का बवाना विधानसभा के कटेवरा गांव में यह पहला दौरा था। ग्रामीणों ने पगड़ी पहनाकर और हल देकर उनका भव्य स्वागत किया। इसके बाद ग्रामीणों ने अपने गांव की समस्याएं गिनाई। ग्रामीणों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने गांव में सड़क की समस्या का समाधान कर दिया है लेकिन श्मशान घाट की समस्या बरकरार है। उन्होंने गांव में एक धर्मशाला बनाने की मांग की। इससे ग्रामीणों को कोई कार्यक्रम करने में सहूलियत हो जाएगी। इस दौरान एमसीडी की मेयर डॉ. शैली ओबेरॉय, विधायक दुर्गेश पाठक व स्थानीय विधायक जय भगवान उपकार समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

इस अवसर पर सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने भारी बारिश के बावजूद बड़ी संख्या में आए लोगों का अभार व्यक्त करते हुए कहा कि मेरे घर से कटेवरा गांव का करीब एक से डेढ़ घंटे का रास्ता है। मैं रास्ते में था, तभी गांव से मेरे पास फोन आया कि बहुत बारिश हो रही है, मैं वापस लौट जाउं। लेकिन मैंने कटेवरा गांव के लोगों से मिलने और उनकी समस्या का समाधान करने का वादा किया था, तो यहां कैसे नहीं आता? इसलिए मैंने भारी बारिश के बाद भी यहां आने का निर्णय लिया।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मुझे पता चला है कि इस बार एमसीडी के चुनाव में कटेवरा गांव के लोगों ने वोट नहीं दिया। सारे लोग नाराज थे। उन्होंने कहा कि मैं आपका बेटा हूं, आपका छोटा भाई हूं। मेरे से नाराज होने का आपका हक बनता है। घर में अगर पिताजी नाराज हो जाते हैं, तो बेटा जाकर उनसे पूछता है न कि बाबूजी क्यों नाराज हो? आज मैं आपसे पूछने के लिए आया हूं कि आप लोग क्यों नाराज हैं? आपकी नाराजगी दूर करने के लिए आया हूं।

सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कटेवरा की फिरनी सड़क बननी थी, वो सड़क बना दी गई है। श्मशान घाट का बुरा हाल है। मैं वादा कर रहा हूं कि श्मशान घाट बनवा दूंगा। गांव में एक चौपाल की भी समस्या है। चौपाल भी बनवा दूंगा। पूरे गांव में सीवेज लाइन डालने का आदेश दे चुका हूं। जल्द की गांव में सीवर लाइन पड़नी चालू हो जाएगी। गांव के अंदर जो स्कूल हैं, वहां पर हम बच्चों को खेलने-कूदने के लिए स्टेडियम बनवा रहे हैं। गांव में कई गलियां और सड़कें टूटी पड़ी हैं, वो सारी गलियां व सड़कें बनवा देंगे। मैं हवा में बातें नहीं करता हूं और केजरीवाल कभी झूठ नहीं बोलता है। मैं जो कहता हूं, वो करता हूं। गांव का श्मशान घाट, टूटी गलियां-सड़कें और चौपाल बनवा दूंगा। इसके अलावा पार्क और सामुदायिक केंद्र भी बनवाएंगे। गांव के गंदे तालाब की सफाई भी करा दी जाएगी।

ग्रामीणों द्वारा कुतुबगढ़ तक मेट्रो लाने की मांग पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इसकी मुझे स्टडी करनी पड़ेगी। इस पर मैं काम अवश्य करूंगा। लेकिन मैं इसको लेकर अभी कोई वादा नहीं कर रहा हूं। ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान करने का वादा कर सीएम अरविंद केजरीवाल ने उनकी नाराजगी दूर की और कहा कि आप चाहे जिसे वोट दीजिए, लेकिन अब वोट डालने जरूर जाना।

सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘दिल्ली के कटेवरा गांव ने एमसीडी के चुनाव में वोट नहीं दिया। पता चला कि वो नाराज़ हैं। ऐसा कैसे हो सकता है? मैं उनका बेटा हूं। आज उनकी नाराज़गी दूर करने उनके गांव आया हूं।

सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘कटेवरा गांव में जाकर गांव के लोगों से मिला। सभी ग्रामीण मेरे अपने हैं। मेरे बड़े-बुजुर्ग हैं, माताएं-बहनें हैं। उनका अधिकार है हमारे उपर। उनकी नाराज़गी दूर करना हमारी ज़िम्मेदारी है। गांव का फिरनी रोड़ हमने बनवा दिया है, चौपाल घर समेत अन्य काम भी जल्द करवाएंगे।
मुख्यमंत्री सीएम श्री अरविंद केजरीवाल के साथ मेयर डॉ. शैली ओबरॉय भी कटेवरा गांव पहुंची। यहां पर गांव वासियों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं भी सुनीं। इस दौरान मेयर ने कहा कि एमसीडी से जुड़े काम गांव में जल्द करवाए जाएंगे। सीएम अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में एमसीडी की ‘‘आप’’ सरकार हर गारंटी को पूरा करेगी।

कटेवरा गांव में जिस वक्त यह कार्यक्रम चल रहा था, उससे पहले से वहां पर बारिश हो रही थी। ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने बारिश होने की सूचना मुख्यमंत्री को दी, तो उन्होंने कहा कि भले बारिश हो रही है, लेकिन मैं जरूर आउंगा। अपने वादे के मुताबिक सीएम कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे, तो ग्रामीणों का जोश कई गुना बढ़ गया और बड़ी संख्या में लोग उनको सुनने पहुंचे। बारिश के बाद भी लोग वहां डटे रहे और सीएम अरविंद केजरीवाल के संबोधन के बाद ही वापस गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *