श्री निजानंद आश्रम वृंदावन में असामाजिक तत्वों द्वारा अव्यवस्था फैलाने पर संतों में आक्रोश

अंकित गर्ग
(वीर सूर्या टाइम्स )वृंदावन। आश्रम के संरक्षक व व्यवस्थापक श्री महंत सुधीप चंद्र जी महाराज ने बैठक को संबोधित करते हुए कि निजानंद आश्रम वृंदावन में कुछ असामाजिक तत्व घुस आए हैं, जो संतों और श्रद्धालुओं के साथ बदतमीजी ओर आश्रम में नशाखोरी भी करते है। उन्होंने कई बार पुलिस ओर प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत भी करा दिया है।
उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि इस तरह गलत कार्य करने वाले तुरंत आश्रम छोड़ दें अन्यथा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हमने कई बार असामाजिक तत्वों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहे हैं।
भारतीय किसान यूनियन टिकैत के प्रदेश उपाध्यक्ष बुद्धा सिंह प्रधान ने कहा निजानंद आश्रम का प्रशासन यदि भारतीय किसान यूनियन से मदद मांगता है तो इनका पूरा सहयोग किया जाएगा। इस प्रकरण को लेकर भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रवक्ता गजेंद्र सिंह परिहार ने कहा कि आश्रम में कुछ असामाजिक तत्व साधु-संतो को पूजा तक नहीं करने दे रहे हैं, ऐसे लोगों को आश्रम प्रशासन चिन्हित करें। उन्होंने कहा ऐसे असामाजिक तत्वों को आश्रम से बाहर खदेड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि माह जुलाई में भारतीय किसान यूनियन टिकैत का तीन दिवसीय मंडलीय चिंतन शिविर निजानंद आश्रम में ही होगा जिसकी सूचना मथुरा प्रशासन को जल्द दे दी जाएगी।
भारतीय किसान यूनियन आगरा के जिलाध्यक्ष राजवीर लवानिया ने कहा हमेशा से भारतीय किसान यूनियन किसानों, संतो, मजदूरों की हमदर्द रही है। यदि निजानंद आश्रम के प्रशासन को भारतीय किसान यूनियन की जरूरत होगी तो हजारों की संख्या में भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता, किसान सहयोग करने के लिए तैयार हैं।
बैठक में निजानंद आश्रम के अध्यक्ष कोमल सिंह तथा सचिव श्री महाराज दास जी, श्रीआनंद दास जी महाराज, दीपचंद्र शास्त्री, कथा व्यास सुश्री साध्वी श्यामलता देवी जी, श्री श्याम सुंदर शास्त्री, श्री कृष्ण मोहन दास जी महाराज, सेवादार आशीष गुप्ता, दीपक गुप्ता, नरेश दास महाराज, विक्रम सिंह, धीर सिंह, जगदीश परिहार, हरवीर सिंह, वकील निजाम, मलखान सिंह, सलीम, बृज बिहारी, पिंटू विक्रम सिंह, सहित सैकड़ों संत और किसान मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *