बुद्ध अंतरराष्ट्रीय सर्किट ग्रेटर नोएडा दुनिया की रोमांचकारी रेसिंग प्रतियोगिता का सबसे बड़ा केंद्र

वीरेंद्र कुमार (वीर सूर्या टाइम्स )
बहुजन समाज की पूर्ण बहुमत की हुकूमत की सरकार उत्तर प्रदेश में आईं थी जिसका नेतृत्व बहन कुमारी मायावती ने किया था. इसका कार्यकाल 2007 से 2012 तक था। इस सरकार के द्वारा अनेकों ऐतिहासिक कार्य किए गए थे जिनमें से एक था बुद्ध अंतरराष्ट्रीय सर्किट।

अंतर्राष्ट्रीय बुद्ध सर्किट भारत में पहली बार निर्मित किया गया था यह हमारे समाज की बेटी की बौद्धिक क्षमता और दक्षता के परिचय था अन्यथा उत्तर प्रदेश से भी ज्यादा समृद्ध राज्य महाराष्ट्र कर्नाटक तमिलनाडु आदि राज्य में इसका निर्माण पहले हो गया होता।

आपको याद होगा जब बहन जी की सरकार थी तब अंतरराष्ट्रीय फॉर्मूला वन का देश में सफल आयोजन किया गया था जिसमें राष्ट्रपति जी भी आए थे यह दुनिया का सबसे महंगा और रोमांच से भरा स्पोर्ट्स है इसकी एक टिकट 20 हजार रुपए की बिकती है।

हमें योगी सरकार की भी तारीफ करनी पड़ेगी कि जिनके नेतृत्व में मोटो जीपी मोटर बाइक रेस का आयोजन किया जा रहा है 22 सितंबर से. यह इतना आसान नहीं होता है इसमें दुनिया भर के अरेंगमेंट करने पड़ते हैं और मोटरबाइक बाहर के देशों आते हैं. लेकिन भारत को अपार विदेशी मुद्रा भी मिलती है क्योंकि विदेशी मेहमान भारत में आते हैं. यहां के होटल में रहते हैं यहां के हैंडीक्राफ्ट को खरीदने हैं.

हम बहन जी की बहुत से मुद्दो पर आलोचना कर सकते हैं लेकिन यह एक ऐसा ऐतिहासिक कार्य है जिसको दुनिया सदियों तक याद करती रहेगी और भारत को करोड़ों करोड़ों रुपए की अपार विदिशी मुद्रा प्राप्त होती रहेगी. यदि सरकार ईमानदारी से इस बुद्ध सर्किट का प्रयोग करते हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि यह अंतरराष्ट्रीय सर्किट तथागत गौतम बुद्ध के नाम से पूरी दुनिया में जाना जाता है जिसकी कल्पना शायद हमारे बहुजन समाज कभी कि नहीं थी। इसलिए इस ऐतिहासिक महान कार्य का श्रेय केवल बहन कुमारी मायावती को जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *